छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा

अपने चयन के अवसरों को बढ़ाने के लिए अभी से Embibe के साथ अपनी
तैयारी शुरू करें
  • Embibe कक्षाओं तक असीमित पहुंच
  • मॉक टेस्ट के नवीनतम पैटर्न के साथ प्रयास करें
  • विषय विशेषज्ञों के साथ 24/7 चैट करें

6,000आपके आसपास ऑनलाइन विद्यार्थी

  • द्वारा लिखित Aishwarya Lakshmi
  • अंतिम संशोधित दिनांक 11-04-2022
  • द्वारा लिखित Aishwarya Lakshmi
  • अंतिम संशोधित दिनांक 11-04-2022

परीक्षा के बारे में

About Exam

परीक्षा का संक्षिप्त विवरण

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीजीबीएसई), राज्य शिक्षा बोर्ड से संबद्ध स्कूलों में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों के लिए प्रत्येक वर्ष सीजीबीएसई कक्षा 6 परीक्षा का आयोजन करता है। कक्षा 5 की तुलना में, सीजीबीएसई कक्षा 6 पाठ्यक्रम नई और विभिन्न अवधारणाओं के साथ पूरी तरह से अलग होते हैं। CG बोर्ड की कक्षा 6 की परीक्षा में सभी विषयों के कठिनाई स्तर में धीरे-धीरे वृद्धि हुई है। छत्तीसगढ़ बोर्ड की कक्षा 6 के टॉपिक और अवधारणाएँ उच्च कक्षाओं के लिए नींव होते हैं।

परीक्षा सारांश

बोर्ड नाम छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड
संक्षेप सीजीबीएसई/सीजी बोर्ड
मुख्यालय रायपुर, छत्तीसगढ़
संचालन छत्तीसगढ़ राज्य सरकार
परीक्षा माध्यम हिंदी/अंग्रेजी

आधिकारिक वेबसाइट लिंक

http://cgbse.nic.in

परीक्षा पाठ्यक्रम

Exam Syllabus

परीक्षा पाठ्यक्रम

छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 पाठ्यक्रम सीजीबीएसई बोर्ड द्वारा तैयार और प्रकाशित किया जाता है। यह एक शैक्षिक बोर्ड है, जो राज्य में विद्यालय शिक्षा में गुणात्मक सुधार की सलाह और सहायता प्रदान करता है।

विद्यार्थी आगामी शैक्षणिक परीक्षा के लिए अपनी तैयारी की योजना बनाने के लिए सीजीबीएसई कक्षा 6 पाठ्यक्रम 2022 को देख सकते हैं। छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 पाठ्यक्रम 2022 की विस्तृत जानकारी प्रश्न पत्रों में शामिल होने वाले विषयों और टॉपिक्स को बेहतर ढंग से समझने में मददगार हो सकती है। पाठ्यक्रम में विज्ञान, हिंदी, गणित आदि विषय शामिल हैं। उनकी परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले, विद्यार्थियों को नवीनतम सीजी बोर्ड कक्षा 6 पाठ्यक्रम 2022 का ज्ञान होना चाहिए। ऐसे में हमारे इस ख़ास लेख में हम  छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 पाठ्यक्रम 2022 के बारे में पूरी जानकारी दे रहे हैं। तो नीचे दिए गए विषय-वार पाठ्यक्रम को देखें, जो कुछ इस प्रकार हैं:

सीजी बोर्ड कक्षा 6 गणित पाठ्यक्रम

गणित एक उच्च स्कोरिंग विषय है इसलिए इसके पाठ्यक्रम को समझना और इसकी पहले से तैयारी की अधिक आवश्यकता है ऐसे में लेख में सबसे पहले हम छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 का गणित पाठ्यक्रम 2022 शेयर कर रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार है:

अध्याय 01 - प्राकृत संख्याएँ

अध्याय 02 - पूर्ण संख्याएँ एवं पूर्ण संख्याओं पर संक्रियाएँ

अध्याय 03 - रेखाखंड

अध्याय 04 - पूर्णांक

अध्याय 05 - वृत्त

अध्याय 06 - गुणनखंड एवं गुणज

अध्याय 07 - भिन्न

अध्याय 08 - कोण

अध्याय 09 - त्रिभुज एवं चतुर्भुज

अध्याय 10 - अनुपात

अध्याय 11 - चर संख्या

अध्याय 12 - बीजीय व्यंजक 

अध्याय 13 - प्रतिशतता 

अध्याय 14 - समीकरण

अध्याय 15 - ज्यामितीय रचनाएँ 

अध्याय 16 - क्षेत्रमिति-1-क्षेत्रफल

अध्याय 17 - क्षेत्रमिति-2-परिमाप

अध्याय 18- सममिति

अध्याय 19 - सांख्यिकी

सीजी बोर्ड कक्षा 6 विज्ञान पाठ्यक्रम

गणित की तरह ही विज्ञान भी छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के मुख्य विषयों में से एक है। ऐसे में यहाँ हम छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के विज्ञान विषय का पाठ्यक्रम कुछ इस प्रकार साझा कर रहे हैं:

अध्याय 01 – हमारी पृथ्वी

अध्याय 02 - हमारा पर्यावरण

अध्याय 03 - द्रव्य की प्रकृति

अध्याय 04 - पदार्थों का पृथक्करण 

अध्याय 05 - हमारे चारों ओर के परिवर्तन 

अध्याय 06 - मापन

अध्याय 07 - सजीवों के लक्षण एवं वर्गीकरण

अध्याय 08 - जीव की संरचना तथा कार्य - I

अध्याय 09 - जीव की संरचना तथा कार्य - II

अध्याय 10 - गति, बल तथा दबाव 

अध्याय 11 - कार्य, ऊर्जा तथा मशीन

अध्याय 12 - प्रकाश

अध्याय 13 - चुंबकत्व 

अध्याय 14 - फ़ाइबर से फ़ैब्रिक: प्लांट फ़ाइबर

अध्याय 15 - अपशिष्ट और उसका प्रबंधन

अध्याय 16 - स्वास्थ्य एवं स्वच्छता

सीजी बोर्ड कक्षा 6 सामाजिक विज्ञान (भाग - 1) पाठ्यक्रम

अब यहाँ देखें  छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के सामाजिक विज्ञान (भाग 1) का पाठ्यक्रम, जो कुछ इस प्रकार है:

इतिहास - खंड

अध्याय 01 – इतिहास के स्रोत

अध्याय 02 – आदिमानव

अध्याय 03 - सिंधु घाटी की सभ्यता

अध्याय 04 - वैदिक काल

अध्याय 5 – महाजनपद काल

अध्याय 06 - नवीन धार्मिक विचारों का उदय

अध्याय 07 - मौर्यवंश और राजा अशोक

अध्याय 08 – विदेशों से व्यापार और संपर्क

अध्याय 09 - गुप्त काल 

अध्याय 10 – प्रांतीय राज्यों का युग 

नागरिक विभाग

अध्याय 01- परस्पर निर्भरता

अध्याय 02 - कातिक एवं केकेटी का गाँव

अध्याय 03 - पंचायती राज

अध्याय 04 - नगर पालिका और नगर निगम

अध्याय 05 - जिला प्रशासन

अध्याय 06 - सार्वजनिक संपत्तियाँ 

अध्याय 07 - बच्चों के अधिकार

अध्याय 08 - सामान्य चेतना

अध्याय 09 - ट्रांस जेंडर / थर्ड जेंडर 

सीजी बोर्ड कक्षा 6 सामाजिक विज्ञान (भाग-2) पाठ्यक्रम

भाग 1 के बाद अब यहाँ देखें  छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के सामाजिक विज्ञान (भाग 2) का पाठ्यक्रम, जो कुछ इस प्रकार है:

भूगोलीय अनुभाग

अध्याय 01 - सौरमंडल में पृथ्वी 

अध्याय 02 - ग्लोब: अक्षांश और देशांतर

अध्याय 03 - पृथ्वी की गतियाँ

अध्याय 04 - मानचित्र

अध्याय 05 - पृथ्वी के प्रमुख परिमंडल 

अध्याय 06 - पृथ्वी के मुख्य स्थलरूप

अध्याय 07 - हमारा देश : भारत

अध्याय 08 - भारत : जलवायु, वनस्पति और वन्य जीवन

अध्याय 09 - छत्तीसगढ़ का पहाड़ी, मैदानी और पठारी गाँव

                  9.1 - ऊपरवेदी - पहाड़ी गाँव

                  9.2 - रिसदा - मैदान का एक गाँव 

                  9.3. - चालना - पठार का एक गाँव

सीजी बोर्ड कक्षा 6 अंग्रेजी पाठ्यक्रम

अंग्रेजी भी एक मुख्य विषय है जिसके ग्रामर सेक्शन पर शुरू से विद्यार्थियों का काम करना आवश्यक है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के इंग्लिश सिलेबस को नीचे शेयर कर रहे हैं:

Chapter 01 - Conversation

Chapter 02 - The Sun Goes on a Holiday

Chapter 03 - Pretending

Chapter 04 - A Masai Home

Chapter 05 - Alice in Wonderland

Chapter 06 - In the Heart of a Seed

Chapter 07 - Jolly Kittens

Chapter 08 - The Hare on the Moon

Chapter 09 - Running and Shouting

Chapter 10 - Jagatu- The Gardener

Chapter 11 - Left in Charge

Chapter 12 - Who has seen the Wind?

Chapter 13 - Gopal Bhand and Mahagyani

Chapter 14 - Puppy and I

Chapter 15 - A Nickel’s Worth of Fun

Chapter 16 - Women for Trees

Chapter 17 - Little Drops of Water

स्कोर बढ़ाने के लिए अध्ययन योजना

Study Plan to Maximise Score

तैयारी के लिए सुझाव

लेख के इस विशेष भाग में हम छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के छात्र व छात्राओं के लिए कुछ विशेष स्टडी टिप्स लेकर आए हैं। छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा के लिए तैयारी टिप्स विद्यार्थियों को उनके शैक्षिक प्रदर्शन में सुधार करने और उच्च कक्षाओं के लिए एक मजबूत आधार तैयार करने में सहायता कर सकते हैं। शिक्षा में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए अपनी कमजोरियों पर काम करना जरूरी है। हालाँकि, इसका मतलब यह नहीं है कि आप अपनी क्षमता को अनदेखा कर रहे हैं। इसलिए, हम सीजी बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा के लिए कुछ उपयोगी तैयारी टिप्स दे रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

1. समय-प्रबंधन है जरुरी 

किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए एक अच्छा स्टडी प्लान आवश्यक होता है।  इसलिए एक उचित अध्ययन टाइम -टेबल के साथ अपने अध्ययन की योजना बनाएं। एक दिन में कम से कम तीन विषयों का अध्ययन करें। ध्यान रहे अपने आप पर पढ़ाई का अधिक भार न डालें, अन्य गतिविधियों जैसे खेल और आराम के लिए भी कुछ समय अलग रखें। ध्यान रहे स्टडी रूटीन में ब्रेक के लिए भी वक़्त निकालना आवश्यक है। अध्ययन के लिए वास्तविक टाइम टेबल तैयार करें। आप अपने आप को अच्छी तरह से जानते हैं, इसलिए उसके अनुसार ही योजना बनाएं। अच्छा अध्ययन टाइम टेबल बनाने के लिए अपने माता-पिता और बड़ों की मदद भी ले सकते हैं।

2. अध्ययन करने के बाद लिखें 

प्रत्येक अध्याय/विषय/टॉपिक को समाप्त करने के बाद सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं को ज़रूर लिखें। नोट्स बनाने की रफ़्तार बनाए रखें, लेकिन ध्यान रहे इस दौरान अपनी हैंड राइटिंग (हस्तलिपि) को खराब न होने दें। नोट्स बनाने से आपको किसी विषय को समझने में लगने वाले समय का विश्लेषण करने में मदद मिलेगी। इतना ही नहीं, यह परीक्षा के दौरान लगने वाले समय का भी अंदाजा लगाने में भी मदद करेगा। ध्यान रहे नोट्स शॉर्ट और सटीक बनाएं ताकि इससे आपको तैयारी करने में मदद मिल सके। इतना ही नहीं, हर विषय के लिए नोटबुक बनाने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि आप एक या दो नोटबुक में ही सेक्शन डिवाइड करके नोट्स बना लें। इससे आपको कंफ्यूजन भी नहीं होगा और आपका समय भी बचेगा। 

3. आरेखों से सीखना 

विद्यार्थी अक्सर लंबे अध्यायों को पढ़ने से थक या उब जाते हैं। इसलिए, जब भी आप पाठ्यपुस्तक पढ़ने से थक जाएं, तो एक विशेष टॉपिक को समझने के लिए आरेख या चित्र बनाइए। इस तरह, आप आसानी से एक टॉपिक सीख सकते हैं। आपको पूरा टॉपिक याद नहीं रखना है; आप केवल आरेख को याद कर सकते हैं और फिर परीक्षा में इसकी व्यख्या अपने शब्दों में कर सकते हैं।  

4. व्यायाम/बाहर की गतिविधियाँ भी है ज़रूरी

पढ़ाई में मन लगाने के लिए व अच्छा स्कोर करने के लिए बाहरी गतिविधियां भी आवश्यक है। चलना, दौड़ना, कूदना या बाइक चलाना जैसी शारीरिक गतिविधियाँ मस्तिष्क को अधिक सक्रिय बनने के लिए प्रेरित करती हैं। शोध में पाया गया है कि एक छात्र का दिमाग तब अधिक सक्रीय होता है जब वह 20 मिनट तक बैठने वाले छात्र की तुलना में उतने ही समय के लिए टहलता है। अपने आप को शारीरिक रूप से स्वस्थ रखने के लिए अध्ययन और अभ्यास या बाहरी गतिविधियों के बीच एक समान संतुलन विकसित करना सुनिश्चित कीजिए। हो सके तो स्टडी प्लान में ब्रेक के वक़्त को शामिल करें और उस दौरान आप थोडा टहल लें या अपनी पसंद का म्यूजिक सुन लें या कोई कार्य कर लें।

5. छोटे नोट्स बनाएं 

कठिन फॉर्मूला को छोटे वाक्य या स्मरक में तोड़िए। जैसे:

sin = लंब (Perpendicular) / कर्ण (Hypotenuse)

cos = आधार (Base) / कर्ण (Hypotenuse)

tan = लंब (Perpendicular) / आधार (Base)

यहाँ, आप प्रत्येक त्रिकोणमितीय अनुपात रेशियो (trigonometric ratio formula) के पहले अक्षर का उपयोग कर एक वाक्य का निर्माण कर सकते हैं, जैसे - "Some People Have Curly Brown Hair Till Painted Black". इसी प्रकार, आप अन्य फॉर्मूला या भौगोलिक पदों के लिए भी इसी ट्रिक का उपयोग कर सकते हैं।

6. समूह-अध्ययन

एक समूह में अध्ययन करने वाले विद्यार्थी, सहपाठियों से नया ज्ञान, नई चीजें व पढ़ने के नए तरीके सीख सकते हैं। हालांकि, ग्रूप स्टडी से एकाग्रता पर प्रभाव पड़ सकता है, लेकिन एक अनुशासित  दृष्टिकोण वाला छात्र अपने सभी साथियों के पढ़ने के अनुभव को बेहतर व अनुशाषित कर सकता है। इसके साथ ही, पढ़ने का एक इंटरैक्टिव तरीका एक कठिन विषय को समझने में आसान बना सकता है। हालाँकि, ग्रुप स्टडीज को लगातार करने से बेहतर है आप हफ्ते में या हर 15 दिन में एक बार ग्रुप स्टडी प्लान करें और उसी अनुसार अपनी तैयारी करें। इसके साथ ही ग्रुप स्टडीज में कब क्या पढ़ना है या पूछना है इसके बारे में पहले से ही सोचकर और योजना बनाकर रखें ताकि आपका समय बर्बाद न हो। 

7. कठिन टॉपिक के लिए वीडियो की मदद लें 

आजकल पढ़ाई के नए-नए तकनीक सामने आए हैं जो छात्र व छात्राओं की तैयारी को और बेहतर कर सकते हैं। जल्दी और आसान शिक्षा के लिए, विद्यार्थी वीडियो पाठ की मदद ले सकते हैं। Embibe का इंटरैक्टिव वीडियो ट्यूटोरियल्स विद्यार्थियों को एनिमेटेड वीडियो के साथ एक मजेदार तरीके से सीखने में सहायता करता है। वे प्रत्येक विषय के बारे में एक बेहतर और गहन रूप से समझ प्रदान करते हैं। इसके साथ ही परीक्षा से ठीक पहले  रिविज़न करने में भी सहायक होते हैं। वीडियो पाठ के कारण आपको पहले पढ़े गए टॉपिक्स को एक बार फिर समझने या उनका रिविज़न करने के लिए फिर से पन्ने पलटने की ज़रूरत नहीं होगी। 

8. अच्छी नींद लें

अध्ययन के अलावा मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य की देखभाल भी अत्यंत महत्त्वपूर्ण है। संतुलित आहार लें और स्कूल के समय तथा सेल्फ़ स्टडी के बाद आराम कीजिए। रात में, बहुत लंबे समय तक जागे न रहें; समय पर सोएं। साथ ही, बिस्तर पर जाने से पहले अगले दिन के लिए भी अपने अध्ययन की योजना बना लें।

9. पुराने प्रश्नों का विश्लेषण 

किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए जितना आवश्यक सिलेबस है उतना ही आवश्यक पिछले वर्ष के प्रश्न पत्र भी है। इसलिए पिछले साल के प्रश्न पत्रों को देखें, उनका विश्लेषण करें कि कब-कब आसान प्रश्न पूछे गए कब-कब मुश्किल प्रश्न पूछे गएं।  मुश्किल प्रश्नों की संख्या व अंक कितने थे और आसान प्रश्नों की संख्या व अंक कितने थे।  इन सब चीज़ों का ध्यान रखें और उसी आधार पर तैयारी करें।  

10. परीक्षा केंद्र जैसा माहौल बनाएं 

आपको सिर्फ पुराने प्रश्न पत्रों का विश्लेषण ही नहीं करना है, बल्कि एक बार तैयारी पूरी होने के बाद उन्हें सॉल्व भी करना है। सवालों को हल करते वक़्त यह सोचें कि आप सच में एग्जाम हॉल में बैठे हैं और एग्जाम दे रहे हैं।  हो सके तो टाइमर के साथ प्रश्नों को हल करें ताकि आप एग्जाम के माहौल को समझ सकें।  एक बार जब आप प्रश्न पत्र को हल कर लें तो यह देखें कि पूरे प्रश्न पत्र को सॉल्व करने में कितना वक़्त लगा।  कौन से प्रश्न में अधिक और कौन प्रश्न को हल करने में कम समय लगा।  कौन सा प्रश्न कठिन लगा और कौन सा आसान इन सब विश्लेषणों से आपको अपने कमजोर और पूरी तरह से तैयार सेक्शन का पता चलेगा।  साथ ही साथ आपकी तैयारी कितनी पूरी है और कितनी बाकी इसका भी पता चल पाएगा।  

परीक्षा देने की रणनीति

सिर्फ स्टडी प्लान ही नहीं, बल्कि परीक्षा योजना भी छात्र व छात्राओं के लिए जरुरी है। निरंतर अध्ययन और उचित परीक्षा योजना परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने में सहायता करती है। विद्यार्थी परीक्षा में अच्छा करने के लिए नीचे सूचीबद्ध तरीके से दिए गए परीक्षा देने के टिप्स को देख सकते हैं। 

  • परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए सीजीबीएसई कक्षा 6 के पूरे पाठ्यक्रम को पूरी तरह से कवर करना आवश्यक है।  हर विषय अपने में खास है और हर सब्जेक्ट की तैयारी भी उसी अनुसार होनी चाहिए। इसलिए प्रत्येक विषय के लिए पर्याप्त समय रखें और उसके अनुसार इसकी योजना तैयार करें।
  • रिविज़न और परीक्षा की तैयारी का पूरा समय रहे, इसके लिए दिसंबर के महीने तक कक्षा 6 के पूरे पाठ्यक्रम को पूरा करने की सलाह दी जाती है।
  • पूरे सिलेबस का अच्छे से विश्लेषण करें और विषयों के कठिन भागों पर खास ध्यान दें। 
  • अपने आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए और अधिक अभ्यास के लिए प्रश्न पत्रों को हल करने की कोशिश करें। 
  • लगातार अभ्यास और अलग-अलग प्रश्न पत्रों को हल करने से महत्वपूर्ण फॉर्मूला को और प्रश्न पत्र हल करने की स्पीड में सुधार हो सकता है। 
  • अपने स्टडी प्लान में रिविजन को ख़ास स्थान दें। ध्यान रहे रिविजन को बाद के लिए न छोड़ें वरना परीक्षा के पहले दबाव बढ़ सकता है।  इसलिए जो भी पढ़ें उसका डेली रिविजन करें, बेहतर है अपने स्टडी प्लान में रिविजन के लिए भी कुछ घंटे जोड़ लें। 

विस्तृत अध्ययन योजना

विद्यार्थी जो छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 की परीक्षा देने जा रहे हैं, वे नीचे दिए गए टिप्स और ट्रिक्स का पालन कर सकते हैं। सही परीक्षा रणनीति विद्यार्थियों को फाइनल परीक्षा के लिए तैयार करने में मदद करेगी। विद्यार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे नीचे दिए गए चरणों को देखें और उनका अनुसरण करें। तो छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 के लिए स्टडी प्लान टिप्स कुछ इस प्रकार हैं:

  • संक्षिप्त नोट्स बनाकर एक अवधारणा सीखें। यह परीक्षा से पहले विषयों का अध्ययन और संशोधन करने में मदद करता है। 
  • जटिल सूत्रों के लिए नोट्स बनाए रखें और बेहतर अवधारणा के लिए प्रत्येक दिन सूत्र पर आधारित प्रश्नों को हल करके उन्हें दोहराएं।
  • अंकभार के अनुसार उन विषयों और अध्यायों को कवर कीजिए, जिनका अनुसरण प्रश्न-पत्र में किया जाएगा।
  • पूरे कक्षा के पाठ्यक्रम को समाप्त करने के लिए एक उचित अध्ययन टाइम टेबल बनाइए। साथ ही साथ एक लक्ष्य तय करें कि इतने वक़्त के अन्दर या इस महीने तक आप अपना पाठ्यक्रम पूरा कर लेंगे। याद रखें किसी भी चीज़ के लिए लक्ष्य ताऊ करना आवश्यक है तभी वह कार्य पूरा हो सकता है।
  • यदि किसी कठिन विषय पर अटके हुए हैं, तो संदेह को दूर करने के लिए अपने शिक्षक, अभिभावक या किसी वरिष्ठ विद्यार्थी की मदद लें। याद रखें सवाल पूछने से ज्ञान बढ़ता है, वहीं अगर आप बिना प्रश्न पूछें एक ही सवाल पर अटके रहेंगे तो इससे सिर्फ वक़्त बर्बाद होगा।
  • उत्तर लिखने से पहले पूरे प्रश्न पत्र को देखने का सुझाव दिया जाता है। यह आपको समय प्रबंधन में मदद करेगा।
  • वहीं, प्रश्न पत्र को पढ़ने में जल्दबाजी न दिखाएं। हालाँकि, ज्यादा सुस्ती से भी प्रश्नों को न पढ़ें कि कुछ सवालों के जवाब आपसे मिस हो जाएँ।
  • याद रखें परीक्षा देने और प्रश्नों को हल करने की रणनीति होनी जरुरी है। इसलिए प्रश्न पत्र मिलते ही अपने मन में एग्जाम में सवालों को हल करने का प्लान बना लें। पहले प्रश्नों को अच्छे से पढ़ें फिर उन सवालों को उठाएं जो आपको आसान लगते हो या आपको आते हों। इसके अलावा अगर आपको अधिक मार्क्स के सवाल आते हों तो और अच्छी बात है तो उन्हीं सवालों को उठाएं। जटिल सवालों को अंत में हल करें।
  • परीक्षा के दिन से पहले चिंतित होने से बचने के लिए, पर्याप्त आराम करें और परीक्षा के पहले अच्छी नींद लें। पर्याप्त आराम करने से आपको अपने मन को शांत करने और अध्ययन किए गए विषयों को प्रभावी ढंग से बनाए रखने में मदद मिलेगी।
  • स्वस्थ डाइट लें और अपनी सेहत का पूरा ध्यान रखें।
  • परीक्षा में साफ़-साफ़ अक्षरों में उत्तर दें क्योंकि कुछ अंक अच्छी व साफ़-सुथरी हैंड राइटिंग के लिए भी दिए जा सकते हैं। वहीं अगर राइटिंग अच्छी नहीं हुई और उत्तर चेक करने वाले को लिखावट समझ नहीं आई तो मिलने वाले अंक भी कट सकते हैं।
  • परीक्षा हॉल में  एग्जाम में उपयोग होने वाली सभी चीज़ें जैसे - पेन, पेंसिल, स्केल, बॉक्स, बोर्ड सब ले जाएं। हो सके तो एक्स्ट्रा कलम, पेंसिल भी ले जाएं ताकि आपको किसी से मांगने की आवश्यकता न पड़े। अगर आपके पास एक्स्ट्रा न हो तो पहले टीचर से कहें और अगर टीचर अनुमति दें तो ही किसी अन्य से मांगें। बिना टीचर से पूछे किसी सहपाठी से बिल्कुल बात न करें, वरना अगर आप पकड़े गए तो हो सकता है आपको एग्जाम देने की अनुमति न दी जाए।
  • परीक्षा में किसी भी प्रश्न को छोड़े नहीं। याद रखें कि इस परीक्षा में किसी तरह की नेगेटिव मार्किंग नहीं है। इसलिए सारे प्रश्नों को एटेम्पट करें। अगर किसी प्रश्न को हल करने में वक़्त लग रहा है तो उस पर अपना वक़्त बर्बाद न करते हुए आगे प्रश्नों को सॉल्व करें और अंत में जो समय बचेगा उसमें उस प्रश्न को हल करें।
  • प्रश्नों के उत्तर देने के बाद और आंसर शीट जमा करने से पहले अगर समय बचे तो उसका उपयोग करें और एक बार सारे उत्तर जरुर पढ़ें। अगर कहीं गलती हो तो उसे ठीक करें, ध्यान रहे ओवर राइट बिल्कुल न करें।
  • परीक्षा देते वक़्त खुद पर भरोसा रखें और अपनी तैयारी पर कॉंफिडेंट रहकर एग्जाम दें।

परीक्षा परामर्श

Exam counselling

विद्यार्थी परामर्श

आजकल काउंसलिंग किसी के लिए भी महत्वपूर्ण है, खासकर जब बात विद्यार्थियों की हो तो काउंसलिंग उनके लिए काफी जरुरी होता है। छात्र व छात्राएं अक्सर पढ़ाई व सब्जेक्ट्स को लेकर दुविधा या उलझन महसूस करते हैं। ऐसे में उनकी इसी दुविधा को दूर करने के लिए काउंसलिंग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। ऐसे में काउंसलिंग के कई फायदे हैं। तो विद्यार्थी परामर्श के कुछ लाभ नीचे सूचीबद्ध हैंः

  • कई बार स्टूडेंट खुद नहीं समझ पाते हैं कि उनके अन्दर कितनी प्रतिभा है। ऐसे में काउंसलिंग या विद्यार्थी परामर्श विद्यार्थियों को उनके अन्दर छिपी क्षमता का पता लगाने में मदद करता है।
  • परीक्षा, परिणाम, स्टडी प्लान, इन सबको लेकर छात्र व छात्राएं कई तरह की चुनौतियों का सामना करते हैं। मन ही मन वो इन चीज़ों से अकेले ही लड़ते हैं। ऐसे में चुनौतियों का सामना कर रहे विद्यार्थियों के साथ चर्चा न केवल उनके संदेहों को दूर करने में मदद करती है, बल्कि उन्हें बेहतर निर्णय लेने में भी मदद करती है।
  • समूहों में परामर्श करने से विश्वास और एक सकारात्मक दृष्टिकोण बनाने में सहायता मिलती है।
  • यह विद्यार्थियों के सम्पूर्ण विकास के लिए मददगार हो सकता है। यह छात्र के सामाजिक कौशल और परीक्षा का सामना करने के कौशल को भी सिखाता है। साथ ही साथ उन्हें कॉन्फिडेंस देता है और उनके अन्दर के परीक्षा के डर या उलझन को कम करने में मदद कर सकता है।
  • कई बार छात्र व छात्राएं आगे के अपने करियर विकल्प को लेकर भी काफी चिंतित व दुविधा में रहते हैं। ऐसे में स्टूडेंट काउंसलिंग से उन्हें अपना करियर ऑप्शन के बारे में जानने व तय करने में भी काफी मदद मिल सकती है।

परीक्षा वार्ता

Exam talks

विद्यार्थियों से बातचीत - टॉपर और रिवाइवर

बारह वर्षीय राहुल सिंह ने अपने छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा की तैयारी के दौरान एक सरल अध्ययन दिनचर्या का पालन किया। उसने राज्य सरकार के स्कूल में अपने अध्ययन के घंटों के अलावा शाम को दो-तीन घंटे के लिए Embibe ऐप पर भी अध्ययन किया। उसने कहा- "स्कूल के बाद के समय में, मैं इससे अपने स्व-अध्ययन और अपने दोस्तों के साथ खेलने के लिए योजना बनाता हूँ। मुझे फिल्में देखना भी पसंद है। मैंने स्वअध्ययन के लिए Embibe अध्ययन मटेरियल की मदद ली, जो मुझे मेरे एक सहपाठी ने बताया था। मैंने स्कूल के बाद अपने अध्ययन के घंटों के दौरान पर्याप्त ब्रेक लिया, और मैंने कभी भी खुद को लंबे समय तक बैठने के लिए मजबूर नहीं किया। इस तरह, से मैं अवधारणाओं (concept) को आसानी से समझ सका और अच्छी तरह से पढ़ाई पर अच्छे से ध्यान केंद्रित कर सका। उसने आगे कहा, "मेरे माता-पिता ने Embibe ऐप की मदद से समय पर पाठ्यक्रम को कवर करने में मेरी मदद की। मैं पिछले आठ महीनों से इस ऐप का उपयोग कर रहा हूँ, और अपने अध्ययन के लिए इसका उपयोग करके मुझे खुशी हो रही है।" इसके साथ ही, राहुल ने Embibe की अध्ययन मटेरियल पर भरोसा किया जो उसे लगातार फाइनल परीक्षा के लिए तैयार रखता था।

महत्वपूर्ण तिथियाँ

About Exam

परीक्षा तिथि

CGBSE 2022 कक्षा 6 परीक्षा प्रारम्भ तिथि मार्च 2022
CGBSE 2022 कक्षा 6 परीक्षा समापन तिथि मार्च/अप्रैल 2022

परीक्षा परिणाम

Exam Result

परिणाम घोषणा

अप्रैल/मई 2022

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Freaquently Asked Questions

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

छात्र व छात्राओं के मन में छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा से जुड़े कई सवाल भी आते हैं। ऐसे में लेख के इस विशेष भाग में छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 6 परीक्षा से जुड़े कुछ अक्सर पूछे जाने वाले सवाल शेयर कर रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार है:

प्र1. सीजीबीएसई का पूर्ण रूप (full form) क्या है?
उ. सीजीबीएसई का फुल फॉर्म छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड है।

प्र2. कक्षा 6 के लिए CG SCERT पुस्तकों का माध्यम क्या है? 
उ. CG बोर्ड की पुस्तकें अंग्रेजी और हिंदी दोनों माध्यमों में उपलब्ध हैं।

प्र3. CG बोर्ड कक्षा 6 के सामाजिक विज्ञान पाठ्यक्रम में कितने खंड हैं?
उ. कक्षा 6 सामाजिक विज्ञान पाठ्यक्रम में दो भाग हैं। भाग 1 में इतिहास और नागरिक विभाग शामिल हैं, और भाग 2 में भूगोल खंड शामिल है।

प्र4. छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीजीबीएसई) का गठन कब किया गया था?
उ. छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का गठन जुलाई , 2001 में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किया गया था। 

संबंधित पृष्ठ भी देखें

छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 10 छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 7
छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 11 छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 8
छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 12 छत्तीसगढ़ बोर्ड कक्षा 9

 

शैक्षिक संस्थानों की सूची

About Exam

स्कूलों / कॉलेजों की सूची

छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार के स्कूलों की सूची

छत्तीसगढ़ में स्कूल श्रेणी स्थान
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, बोराई सरकारी बोराई
राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, बिलासपुर सरकारी बिलासपुर
राजकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, बिलासपुर सरकारी बिलासपुर
सर्वोदय विद्यामंदिर स्कूल सरकारी बिलासपुर
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, दंतेवाड़ा सरकारी दंतेवाड़ा
सरकारी बहुउद्देशीय स्कूल सरकारी दंतेवाड़ा
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, धमतरी सरकारी धमतरी
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, धोरिदां सरकारी धोरिदां
राजकीय प्राथमिक विद्यालय सरकारी जरहाभाटा
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, करप सरकारी करप
गवर्नमेंट हाई स्कूल, अमेरी सरकारी रायपुर
राजकीय उच्च विद्यालय, गोंडपारा अभनपुर सरकारी रायपुर
गवर्नमेंट हाई स्कूल, काठिया सरकारी रायपुर
गवर्नमेंट हाई स्कूल, खोर्शियो सरकारी रायपुर
गवर्नमेंट हाई स्कूल, पैरागोन सरकारी रायपुर
गवर्नमेंट हाई स्कूल, चटौद सरकारी रायपुर
गवर्नमेंट हाई स्कूल, रसनीक सरकारी रायपुर
राजकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, राजनांदगांव सरकारी राजनांदगांव
राजकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, रायपुर सरकारी रायपुर
जवाहरलाल नवोदय विद्यालय, सरगुजा सरकारी सरगुजा


राज्य बोर्ड (सीजीबीएसई) से संबद्ध छत्तीसगढ़ में निजी (प्राइवेट) स्कूलों की सूची 

छत्तीसगढ़ में स्कूल श्रेणी स्थान
अंबुजा विद्या पीठ निजी रायपुर
बचपन, कोरबा निजी कोरबा
बाल्को टाउनशिप एचएस स्कूल निजी कोरबा
भारतीय संस्कृति हायर सेकेंडरी स्कूल निजी रायपुर
भारत माता हायर सेकेंडरी स्कूल निजी रायपुर
डैफोडील्स इंग्लिश स्कूल निजी रायपुर
डॉल्फिन इंटरनेशनल स्कूल निजी कांकेर
निर्मल हायर सेकेंडरी स्कूल निजी बस्तर
इंडियन नेशनल स्कूल निजी रायपुर
दिल्ली पब्लिक स्कूल निजी दुर्ग
महर्षि विद्या मंदिर निजी रायगढ़
महर्षि विद्या मंदिर निजी सरगुजा

Embibe पर 3D लर्निंग, बुक प्रैक्टिस, टेस्ट और डाउट रिज़ॉल्यूशन के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ हासिल करें